HSRP Punjab क्या है और hsrp number plate ऑनलाइन कैसे अप्लाई करें और घर पर प्राप्त करें

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (MORTH), भारत सरकार ने सेंट्रल मोटर व्हीकल रूल्स 1989 के नियम 50 में संशोधन कर उस फॉर्म और तरीके को मानकीकृत किया, जिसमें देश भर में पंजीकरण संख्या प्रदर्शित की जाती है। HSRP Punjab भी उकसा ही एक पार्ट है ।

punjab-hsrp-768x477
punjab-hsrp-768×477

मौजूदा कार्यप्रणाली में कई सारी  खामियां पाई गई जो इस प्रकार से हैं 

Table of Contents

पुराने नंबर प्लेट प्रोसेस में पाई जाने वाली खामिया इस प्रकार से हैं।

1. HSRP Punjab लागु होने से पहले आम जनता, किसी भी standardization की अनुपस्थिति में और प्लेटों को पर्सनलाइज  करने के प्रयास में किसी भी फैंसी पेंटिंग, किसी भी आकार में अवांछनीय मोनोग्राम आदि के साथ रजिस्ट्रेशन मार्क या नंबर को पेंटिंग करा लेती थी।

2. पंजीकरण प्लेटों के साथ छेड़छाड़ करना बहुत आसान है, जिससे अपराधी आसानी से प्लेटों को बदल देते हैं। यह डकैती और सड़क आधारित अपराधों को भी प्रोत्साहित करता है।

3. भ्रामक / फैंसी पंजीकरण प्लेटें सड़क आधारित अपराधों, रोड रेज और / या हिट एंड रन मामलों में वाहनों की पहचान में बहुत असुविधा पैदा करती हैं।

4. मौजूदा प्रणाली के तहत, सभी रिकॉर्ड मैन्युअल रूप से क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों / जिला परिवहन कार्यालयों में संग्रहीत किए जाते हैं, जो जरूरी आधार पर रिकॉर्ड को बाहर निकालना बहुत मुश्किल हो जाता है। एचएसआरपी योजना के कार्यान्वयन के साथ, पंजीकरण संख्या के साथ वाहन मालिकों से संबंधित सभी रिकॉर्ड को डिजिटल रूप दिया जाएगा, इस प्रकार रिकॉर्ड के एक राष्ट्रीय भंडार के निर्माण में सक्षम किया जाएगा।

5. मौजूदा प्रणाली में, पंजीकरण प्लेटों को सड़क किनारे विक्रेताओं द्वारा लगाया जाता है जो पंजीकरण प्लेटों की क्वालिटी  में भिन्नता के बारे में इशू बन जाता  है। नए प्रोसेस से स्टैंडर्डाइजेशन के साथ, इन प्लेटों की क्वालिटी  में भी काफी सुधार होगा, जिससे ये नंबर प्लेटे लम्बे समय तक चल सकेंगी।

HSRP Punjab या नए नंबर प्लेट से होने वाले लाभ

1. देश भर में नंबर प्लेट डिस्प्ले फॉर्मेट  का स्टैंडर्डाइजेशन होगा ।

2. एकीकृत सेंट्रल बॉडी  के अंतर्गत सभी वाहनों के डेटा को डिजिटाइज़ किया जायेगा , अर्थात एनआईसी (राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र) के अंतर्गत।

3. एचएसआरपी के बाद से वाहनों और वाहन जनित अपराधों की चोरी पर अंकुश लगाने के लिए  स्थानीय रजिस्ट्रेशन केवल प्राधिकरण द्वारा उचित वेरिफिकेशन  के बाद ही जारी किया जा सकता है।

4. विभिन्न वाहनों के लिए रजिस्ट्रेशन  प्लेट्स एक यूनिफॉर्म में बनाई जाएँगी  ताकि बाद में तारीख किसी के द्वारा पड़ी नहीं जा सकते और वह केवल लेजर डिटेक्शन से ही पड़ी जा सके । सरकार ऐसी तकनीक पर काम कर रही है।

5. पंजीकरण प्लेटों को विनियमित किया जायेगा ताकि अवैध प्लेटों को उपद्रवियों द्वारा बेचा और वितरित नहीं किया जा सके।

6. सड़क संबंधी अपराधों से निपटने में अधिकारियों मदद मिलेगी और इन प्लेटो की सहायता से राज्य में सुरक्षा परिदृश्य में सुधार आएगा ।

Punjab Land Record Society 

HSRP की कुछ गुणवत्ता इस प्रकार है

रेट्रो रिफ्लेक्टिव शीट (आरआरएस):

यह मुख्य रूप से उत्पादों में उपयोग की जाने वाली एक लचीली सामग्री है, जिसमें एप्रोचिंग ड्राइवरों के हेडलैम्प्स में रात के समय विजिबलिटी  बढ़ती है ।  एचएसआरपी उच्च ग्रेड आरआरएस का उपयोग करता है जो इस प्रकार 200 मीटर से अधिक की दूरी से विजिबलिटी   बढ़ाता है।

क्रोमियम आधारित होलोग्राम:

होलोग्राम का उपयोग कई उत्पादों में मुख्य रूप से सुरक्षा सुविधा के रूप में किया जाता है। होलोग्राम को अत्यधिक उच्च तापमान पर गर्म किया जाता है जिससे नंगे हाथों का उपयोग करना व्यावहारिक रूप से हटा दिया जाना या छेड़छाड़ करना असंभव हो जाता है। होलोग्राम एक “चक्र” की छवि भी धारण करता है? नीले रंग में जो सुरक्षा सुविधा को और मजबूत करता है।

सुरक्षा इंस्क्रिप्ट के साथ हॉट स्टैम्प्ड फिल्म:

पत्र / अंक एक विशेष हॉट स्टैम्पिंग फॉइल के साथ अंकित होते हैं जिस पर शिलालेख “Indiacription नीले रंग में अंकित होता है?” । इस शिलालेख के लिए जिस प्रकार की स्याही का इस्तेमाल किया गया है, वह पियरलेसेंट पिगमेंट पर आधारित है, जो विभिन्न देखने के कोणों से देखने पर उत्पाद के रंग में परिवर्तन का कारण बनता है। यह आगे नकली पंजीकरण प्लेट निर्माताओं के लिए एक निवारक के रूप में कार्य करता है।

HSRP Price List

Two Wheeler hsrp rate

Complete HSRP Set173.46
Damage Front Plate117.03
Damage Rear Plate143.16
Damage Both Plate260.19

Three Wheeler hsrp rate(Passenger & Goods)
& Invalid Carriages

Complete HSRP Set233.64
Damage Front Plate182.42
Damage Rear Plate208.56
Damage Both Plate325.59
3rd Licence Plates (Stickers) Only65.38

Light Motor Vehicles / Passenger Cars hsrp rate

Complete HSRP Set513.3
Damage Front Plate404.6
Damage Rear Plate430.75
Damage Both Plate769.97
3rd Licence Plates (Stickers) Only65.38

Tractor hsrp rate

Complete HSRP Set173.46
Damage Front Plate117.03
Damage Rear Plate143.16
Damage Both Plate260.19

Medium Transport Commercial Vehicles /
Heavy Transport Commercial Vehicles
& Trailer Combination hsrp rate

Complete HSRP Set548.7
Damage Front Plate431.54
Damage Rear Plate457.69
Damage Both Plate823.85
3rd Licence Plates (Stickers) Only65.38

HSRP पोर्टल पर 1 अप्रैल 2019 से पहले वाहनों के लिए नंबर प्लेट अप्लाई करने का प्रोसेस।

सबसे पहले आपको HSRP पंजाब के आधिकारिक पोर्टल को खोलना होगा।  इसके लिए गूगल सर्च बॉक्स पर HSRP Punjab लिखना होगा।  सबसे पहले लिंक punjab hsrp.in पर क्लिक करे।  क्लिक करने के बाद आप punjab hsrp पोर्टल पर पहुँच जायेंगे।

Apply-hsrp-plate768x403
Apply-hsrp-plate768x403

Punjab hsrp के पोर्टल पर Apply HSRP Online Pay HSRP Fee (Old Vehicle Manufactured Before 1st Apr 2019) के लिंक पर क्लिक करें।  आगे hsrp का एप्लीकेशन फॉर्म खुल जायेगा। फॉर्म में सबसे पहले एप्लीकेशन टाइप सेलेक्ट करें , इसके बाद अपना वाहन  नंबर डाले , चेसी नंबर डाले , इंजन नंबर डाले , वाहन के मालिक का नाम डाले, मोबाइल नंबर डाले, वाहन की क्लास डाले , वाहन टाइप सेलेक्ट करें , रजिस्ट्रेशन कार्ड टाइप सेलेक्ट करें  और आपको जिस जगह प्लेट लगवानी है वह लोकेशन सेलेक्ट करें।

Apply-hsrp-plate1-768x444
Apply-hsrp-plate1-768×444

फिटमेंट लोकेशन में आप RTA /SDM  ऑफिस सेलेक्ट कर सकते हैं या फिर फिटमेंट at होम भी सेलेक्ट कर सकते हैं।  फिटमेंट होम के लिए थोड़ा चार्जेज ज्यादा देना पड़ सकता है लेकिन सेफ हैं।

निचे टर्म एंड कंडीशन सेलेक्ट करे और सबमिट बटन  पर क्लिक करें।  submit के बाद अगले पेज पर पहुँच जायेंगे जहाँ  पर ऑनलाइन पेमेंट का ऑप्शन मिलेगा।  इस पेज पर आपका एप्लीकेशन नंबर , इनवॉइस नंबर , रजिस्ट्रेशन नंबर, कस्टमर का नाम , मोबाइल नंबर , प्रोडक्ट का नाम  लिखा होगा , निचे दाई तरफ पेमेंट करना का ऑप्शन दिया है , उस पर क्लिक करें। अगले पेज पर आपके पेमेंट करने के मोड खुल  जायेंगे , किसी भी एक पेमेंट मोड को सेलेक्ट करके पेमेंट करें। पेमेंट करने के बाद आपकी hrsp punjab की व्हीकल प्लेट बुक हो जाएगी कुछ ही समय बाद आपके घर प्लेट डिलीवर हो जाएगी या आप फिटमेंट सेण्टर से भी प्लेट लगवा सकते हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना फॉर्म पीडीएफ डाउनलोड

hsrp punjab के नंबर प्लेट का स्टेटस कैसे  चेक करें।

अगर आप ने अपने व्हीकल के लिए hsrp punjab नंबर प्लेट के लिए ऑनलाइन अप्लाई किया हुवा है और जानना चाहते हैं की आपकी नंबर प्लेट तैयार हुई है या नहीं तो निचे दिए गए प्रोसेस को फॉलो करें।

सबसे पहले hsrp punjab की आधिकारिक वेबसाइट खोल ले।  वेबसाइट खोलने के बाद मैन मेनू में दिए गए Track Status के लिंक पर क्लिक करें।  लिंक पर क्लिक करने के बाद आप स्टेटस चेक करने वाले पेज  पर redirect हो जायेंगे। 

hsrp-punjab-status
hsrp-punjab-status

यहाँ पर दो तरह से आप अपने hsrp number plate का स्टेटस जान सकते हैं।

पहला ऑप्शन में आप अपने RC नंबर से स्टेटस चेक कर सकते हैं।

और दुसरे ऑप्शन में आप को hsrp number करते वक्त एक इनवॉइस नंबर मिला है उस इनवॉइस नंबर को डालकर सर्च करके भी स्टेटस जान सकते हैं।

hsrp-punjab-status1
hsrp-punjab-status1

जैसे  ही आप इन दोनों ऑप्शन में से किसी एक को डालकर सर्च करते हैं तो अगर आपकी hsrp नंबर प्लेट तैयार हो गई है तो स्क्रीन पर यह मैसेज लिखा हुवा आएगा की “Entered Registration Number is Ready with us” इसका मतलब है की आपके द्वार अप्लाई की गई नंबर प्लेट तैयार है वो या तो आपको घर पर डिलीवर होगी या फिर आपके द्वारा चुनी हुई डेट पर आपको फिटिंग सेण्टर पर लगवानी  होगी।

 

Question & Answer

HSRP क्या है?

हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट्स (संक्षेप में एचएसआरपी) उन वाहनों के लिए एक नंबर प्लेट है जो 2001 में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (एमओआरटीएच) द्वारा पेश किया गया था। यह 1 मिमी विशेष ग्रेड एल्यूमीनियम से बना है और सफेद / पीले रंग की रिफ्लेक्टिव शीट से लैमिनेटेड है। इसने ऐसे पात्रों को उभरा है, जिन पर सुरक्षा शिलालेख के साथ ब्लैक फ़ॉइल गर्म मुहर लगी है।

एचएसआरपी वाहन को सुरक्षित रखने में कैसे मदद करता है?

लेजर नंबर:

सभी एचएसआरपी में सतह पर एक लेजर पहचान संख्या होती है, जिसे मिटाया नहीं जा सकता है और यह पूरे भारत में एचएसआरपी के लिए अद्वितीय है। यह लेजर नंबर वाहन के बारे में सभी प्रासंगिक जानकारी के साथ संलग्न है जैसे पंजीकरण संख्या, मेक, मॉडल, इंजन नंबर, चेसिस नंबर आदि। यह डेटा इलेक्ट्रॉनिक रूप से सरकार के डेटाबेस में सहेजा जाता है। यह लेज़र नंबर यह निर्धारित करने में मदद करता है कि नंबर प्लेट वास्तविक है या नहीं और इस प्रकार यह प्रश्न में वाहन की प्रामाणिकता की पहचान करने में मदद करता है।

 Sap Locks:

 HSRP वाहनों पर तय किया जाता है जो टेम्परेचर, गैर-हटाने योग्य और गैर-पुन: प्रयोज्य स्नैप लॉक का उपयोग करता है। जिससे नंबर प्लेट को हटाना एक बार बेहद मुश्किल हो जाता है, क्योंकि यह अपराधियों के लिए वाहन चोरी करना और HSRP को साधारण नंबर प्लेटों से बदलना मुश्किल बना देता है।

रिफ़्लेक्टिव शीट:

HSRP की सतह पर एक सफेद या पीले रंग की परावर्तक शीट होती है। वाहन रात के दौरान अधिक दिखाई देता है, इस प्रकार दुर्घटनाओं से बचा जा सकता है।

 मानक प्रारूप:

 HSRP के केवल 4 आकार हैं और पंजीकरण संख्या बहुत स्पष्ट रूप से इस पर उकेरी गई है जो उन्हें अत्यधिक पठनीय बनाती है। यह कानून प्रवर्तन एजेंसियों को विभिन्न तरीकों से अपराध को रोकने में मदद करता है।

उत्कृष्ट फिनिश:

hsrp प्लेट के लिए कच्चा मॉल नीदरलैंड जर्मनी और जापान से मंगाया जाता है जो की एक उन्नत उत्पाद होता है और जिसको फिनिशिंग करके hsrp की प्लेट बनाई जाती हैं  जो की एक बेहतर क्वालिटी और बेहतर लुक की होती हैं।

क्या भारत भर में HSRP अनिवार्य है?

 हाँ यह अनिवार्य  है। लेकिन, वर्तमान में कुछ ही राज्यों ने इस कानून को लागू किया है। और अन्य राज्य निविदाओं को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया में हैं।

एचएसआरपी क्षतिग्रस्त होने / खो जाने की स्थिति में क्या होता है और क्या  इसे बदलने की आवश्यकता है?

क्षतिग्रस्त एचएसआरपी को डीटीओ में लाना होगा और प्रतिस्थापन के लिए एक नया आवेदन करना होगा।

यदि किसी कारण से HSRP खो जाता है, तो यह सिफारिश की जाती है कि आपके पुलिस स्टेशन में एक रजिस्ट्रेशन डायरी होती है जो  खोई हुई HSRP की लेजर आइडेंटिफिकेशन  नंबर  नोट किया जाता है और  नाइ hsrp प्लेट लगवाने के लिए एप्लीकेशन दी जाती है।

मैंने पहले से ही अपने वाहन पर एचएसआरपी चिपका दिया है, लेकिन मैं इस पर कोई लेजर पहचान संख्या नहीं देख सकता। क्यों?

आपके वाहन पर जो नंबर प्लेट है, वह HSRP नहीं है। यह केवल hsrp जैसा  दिखता है। आपको अपने राज्य के परिवहन विभाग द्वारा अनुमोदित पंजीकृत विक्रेता से एक नया एचएसआरपी प्राप्त करना होगा।

Leave a Comment