Blog Expenses – ब्लॉग शुरू करने पर होने वाला खर्च

दोस्तों अब आपका इन्तजार खत्म और लो आ गई ब्लॉगिंग श्रृंखला की दूसरी पोस्ट।  पोस्ट का टाइटल पढ़कर आपने अंदाजा तो लगा ही लिया होगा की पोस्ट का विषय क्या होने वाला है।  अगर आप यह पोस्ट पढ़ रहे हैं तो मैं उम्मीद करता हूँ की आपने पहली पोस्ट जिसका नाम है ” 2023 में ब्लॉग शुरू करना सही विकल्प है या नहीं ” , को जरूर पढ़ लिया होगा और अगर अभी तक नहीं पढ़ा है तो जरूर पढ़ लेना क्योंकि इसे पढ़ने के बाद आपका दृश्टिकोण जरूर साफ़ हो जायेगा की , क्या आपको इस रस्ते पर चलना चाहिए या नहीं।  और इस पोस्ट को पढने के बाद आपका दृढ़ संकल्प और भी मजबूत होगा। 

अगर आपने ब्लॉग शुरू करने का निस्चय कर ही लिया है तो  सबसे पहले आपको ये  जान लेना चाहिए की एक ब्लॉग शुरू करने में कितना खर्चा आ सकता है।  सबसे पहले मैं आपको स्पष्ट बता दूँ की एक ब्लॉग 0 इन्वेस्टमेंट से भी शुरू हो सकता है और इसे शुरू करने में लाखों रूपये भी इन्वेस्ट किये जा सकते हैं। 

ब्लॉग शुरू करने पर आने वाला खर्च 

ब्लॉग शुरू करने से पहले , क्या आप चिंतित हैं की इसे शुरू करने पर खर्च क्या आएगा ? लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की खर्च के बारे में सोचने से पहले आपने ये सोचा हो की आपको ब्लॉग से कमाना कितना है?

या फिर आप ऐसे ही शोंक पूरा करने के लिए इसे शुरू करना चाहते हैं।  दोनों मकसदों को पूरा करने में दिन रात का फर्क है।  अगर आप केवल ब्लॉग अपना शौंक पूरा करने या सिखने के लिए शुरू करना चाहते हैं तो आपको कुछ भी खर्च नहीं करना है।   

इसके लिए आपको केवल थोड़ा अपना समय इन्वेस्ट करने की जरूरत होगी। इंटरनेट पर अनेक free blog शुरू करने के ऑप्शन उपलब्ध हैं जैसे google blogger पर कुछ blog post डालकर अपना ब्लॉग शुरू कर सकते हैं।  wordpress.com पर फ्री में ब्लॉग शुरू कर सकते हैं।  और इसके आलावा सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी फ्री में ब्लॉग शुरू कर सकते हैं। 

फ्री में ब्लॉग शुरू करने के लिए आपमें कंटेंट लिखने की कला जरूर होनी चाहिए।  और अगर आप Online Earning के लिए ब्लॉग शुरू करना चाहते हैं तो आगे इस पोस्ट में मैं इस पर आने वाले खर्च के बारे में विस्तार से बताऊंगा और किस प्रकार से आप इस खर्च को कम से कम कर सकते हैं इसका उपाय भी बताऊंगा। 

Earning Blog या Learning Blog 

जैसा मैंने पहले भी कहा था की ब्लॉग शुरू के खर्च के बारे में जानने से पहले आपको ये निर्धारित करना पड़ेगा की आप ब्लॉग से कितना कमाना चाहते हैं।  एक Earning Blog शुरू करने का खर्च अलग अलग हो सकता है। 

अगर आप एक स्टूडेंट हैं , हाउस वाइफ हैं या बेरोजगार हैं और ब्लॉग शुरू करके कुछ कमाना चाहते हैं तो आपको ज्यादा खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ेगी।  लेकिन आपको अपना कीमती समय ब्लॉग को जरूर देना पड़ेगा।  

साधारण ब्लॉग शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले domain खरीदना पड़ेगा जिसे आप किसी भी कंपनी से जैसे Godaddy या Namecheap जैसे कंपनियों से इसे खरीद सकते हैं।  

अगले स्टेप में आपको एक  सस्ती hosting लेने की जरूरत होगी जो की shared होस्टिंग से भी आपका काम चल सकता है।  अगर इन दोनों सर्विसेज का खर्च का आंकलन करे  तो डोमेन 500 रूपये से लेकर 1000 रूपये तक का हो सकता है और shared होस्टिंग का साल का खर्च 1500 रूपये से लेकर 4000 रूपये तक का हो सकता है। 

Blog Expenses
Blog Expenses

लेकिन ये काम यहीं तक खत्म नहीं होता , डोमेन खरीदने से पहले कुछ चीजे ध्यान में रखनी जरूरी हैं जैसे Domain History और Domani Extention ।  डोमेन खरीदने से पहले ये दोनों चीजे जरूर देख लेनी चाहिए। क्योंकि अगर आप शुरू से ही इन बातो का ध्यान नहीं रखेंगे तो आपको  ब्लॉगिंग फील्ड में सफल होने में दिक्क़ते आ सकती हैं।

अगर आप Domain और Hosting अच्छी कंपनी से नहीं खरीदेंगे तो आपकी वेबसाइट की स्पीड भी कम हो सकती है।  इसलिए मैं दो अलग अगल कम्पनियो से domain और hosting सर्विस लेता हूँ।  डोमेन के लिए मैं Godaddy और Hosting के लिए Hostinger कंपनी का इस्तेमाल करता हूँ। 

Learning Blog के बारे में कुछ बाते में बाद में शेयर करता हूँ , इससे पहले Earning Blog के खर्च के बारे में जान लेते हैं। 

Earning Blog पर आने वाला खर्च 

Earning Blog पर खर्च करने की कोई लिमिट नहीं है।  यह काम केवल व्यवसाइक दिमाग के लोग ही करते हैं।  ऐसे लोगो के लिए ब्लॉग पर खर्च करना भी एक इन्वेस्टमेंट ही होती है और इन्वेस्टमेंट जितनी होती है तो कमाई भी उतनी ही होती है। 

ऐसा ब्लॉग शुरू करने ले लिए सबसे पहले niche रिसर्च की जाती है।  उसके बाद प्रीमियम domain खरीदा जाता है , premium domain वो होते हैं जिनमे keywords छुपे होते हैं।  इसलिए premium डोमेन 500 रूपये से लेकर 5 लाख रूपये तक खरीदा जा सकता है।

premium domain खरीदने से पहले ये भी देखा जाता है कहीं वो domain गूगल द्वारा Penalize तो नहीं किया हुआ है। अब penalize domain के क्या नुकशान होते हैं ये मैं किसी अन्य blog post में समझाऊंगा। 

अगले स्टेप में एक अच्छी होस्टिंग खरीदी जाती है। होस्टिंग हमेशा अच्छी स्पीड और  भविष्य में ब्लॉग पर आने वाली ट्रैफिक के अंदाजे के  आधार पर ही खरीदनी चाहिए।  अगर होसिंग की स्पीड अच्छी नहीं होती है तो वेबसाइट में Google Web Vital का इशू आ सकता है। 

अधिक ट्रैफिक हैंडल करने लिए dedicated hosing होस्टिंग लेनी पड़ती है जिसका खर्च 500 रूपये महीना लेकर 5000 रूपये महीना आ सकता है। Earning Blog पर और भी कुछ खर्च आने वाले हैं जो मैं आगे बताने वाला हूँ। 

ब्लॉग डिज़ाइन करवाने का खर्च  

अभी तक आपने डोमेन और होस्टिंग खर्च को जान लिया है।  कोई भी ब्लॉग या वेबसाइट केवल डोमन या होस्टिंग लेने से नहीं चलता। इससे अगला स्टेप एक ब्लॉग को डिज़ाइन करवाना है। 

अच्छा दिखने वाले और यूजर फ्रेंडली ब्लॉग पर ट्रैफिक अधिक आती है।  इसलिए ब्लॉग डिज़ाइन करवाने पर भी खर्च होता है और ये खर्च 5000 रुपये से लेकर 1 लाख रूपये तक आ सकता है।  ये डिज़ाइन आपके कंटेंट या सर्विस के आधार पर होता है। 

ब्लॉग पर जो सर्विस आप देना चाहते है और जिस तरह का कंटेंट आप पब्लिश करना चाहते है उसी आधार पर ब्लॉग डिज़ाइन पर खर्च होता है।  अगर आप एफिलिएट मार्केटिंग ब्लॉग डिज़ाइन करवाना चाहते हैं तो उसका खर्च साधारण इंफॉर्मेटिव ब्लॉग से अधिक आता है लेकिन उसकी कमाई  भी अधिक होती  है। 

कंटेंट लिखवाने का खर्च 

डोमेन ले लिया होस्टिंग ले ली और ब्लॉग डिज़ाइन करवा लिया , अब सबसे अहम स्टेप आता है जो ट्रैफिक के लिए सबसे अहम पार्ट होता है। 

गूगल पर कोई भी ब्लॉग कंटेंट के आधार पर ही रैंक होता है।  कंटेंट लिखने की कला सबमे नहीं होती।  ब्लॉग पर केवल वो ही कंटेंट रैंक होते है जो SEO friendly होते है और कीवर्ड रिसर्च करके ही लिखे जाते हैं। 

इसलिए कंटेंट लिखवाने का खर्च भी 30 पैसे से लेकर 1 रुपया प्रति शब्द पड़ता है।  इसलिए एक 2000 शब्दों को पोस्ट लिखवाने के लिए 600 रूपये से लेकर 2000 रूपये तक खर्च होते हैं।  और किसी भी ब्लॉग को रैंक करवाने के लिए कम से कम 50 पोस्ट होना जरूरी है।  50 पोस्ट लिखवाने के लिए कम से कम 30000 रूपये से लेकर 1 लाख रूपये तक खर्च करना पड़ सकता है।

अगर कंटेंट सही से नहीं लिखे गए हैं और डुप्लीकेट कंटेंट लिखे जाते है तो ब्लॉग गूगल के helpful content या spam policy से हिट हो सकता है और ट्रैफिक जीरो हो सकती है। 

SEO और ब्लॉग प्रमोशन खर्च 

वैसे तो ब्लॉग की छोटी छोटी चीजों पर जितना मर्जी खर्च कर सकते हैं लेकिन SEO और ब्लॉग प्रमोशन पर भी खर्च करना जरूरी है।  SEO में स्पीड ऑप्टिमाइज़ करना , बैकलिंक बनाना , सोशल मीडिया और अन्य प्लेटफार्म पर ब्लॉग को प्रोमोट करना होता है। 

अगर सही से बैकलिंक नहीं बनाये गए तो ब्लॉग गूगल की backlink spam पालिसी के अंतर्गत हिट हो सकता है।  और जब तक स्ट्रांग बैकलिंक नहीं बनते तब तक ब्लॉग गूगल के किसी भी core update से हिट हो सकता है और ब्लॉग की ट्रैफिक जीरो हो सकती है। 

कम से कम खर्च ब्लॉग कैसे शुरू करें। 

इससे पहले मैंने ऊपर Learning blog के बारे में लिखा था जो की जीरो बजट से शुरू किया जा सकता है।  लेकिन जिस प्लेटफार्म पर ये ब्लॉग शुरू किया जाता है वो प्लेटफार्म अधिक सुविधा नहीं देते और न ही यूजर  उन प्लेटफॉर्म्स को पसंद करते। 

अब मैं एक ऐसा रास्ता बताने वाला हूँ जहाँ पर आप कम खर्च में ब्लॉग बनाना सीख ही नहीं सकते बल्कि अपने ब्लॉग से कमाई भी कर सकते है। 

इसके लिए आपको डोमेन तो जरूर खरीदना पड़ेगा लेकिन google cloud hosting और amazon web services से अपना एक साल का होस्टिंग खर्च बचा सकते हैं और जब एक साल बाद आपका ब्लॉग कुछ कमाने लग जाए तो इसे आप किसी भी shared hosting पर शिफ्ट कर सकते हैं।  या शुरू से ही कोई सस्ती shared hosting पर अपना ब्लॉग शुरू कर सकते हैं। 

WordPress पर ब्लॉग शुरू करने पर आपका ब्लॉग डिज़ाइन का खर्च भी बच सकता है।  और बाकी के अन्य सभी काम आप खुद सीखकर भी कर सकते हैं जैसे कंटेंट लिखना , SEO करना , बैकलिंक बनाना इत्यादि।  और अगर आप ब्लॉगिंग में एक्सपर्ट बनना चाहते हैं तो मुझे निचे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखना मैं आपके लिए फ्री में इस बहुमूल्य जानकारी पर blog post  जरूर लिखूंगा।

Leave a Comment

Advertisements